खबर प्यार मे : प्यार में इलेक्शन

क्यों न हम अपने प्यार में इलेक्शन जैसा कुछ करें
ये कैसी अजीब बात है, तुम अब प्यार में इलेक्शन लड़ रहे हो ,
तुम तो नेता हो जाओगे लगता है

तुम क्यों डरती हो मैं जुमले नही दूँगा तुम्हे ,
अरे रहने दो पिछली बार भी यही बोले थे , अच्छा चलो छोड़ो बताओ इलेक्शन डेट कब है ,

क्या बात है बड़ी जल्दी में हो इलेक्शन के , हाहाहा । डेट का क्या है जब बोलो जब रख ले ,
चलो बताओ क्या क्या वादे हैं तुम्हारे ,

हम भी प्यार में कुछ बाटने की सोच रहे है जैसे सरकारे लैपटॉप और पैसे बाँट रही है ,
अच्छा कोई धर्म का मुद्दा तो नही उठाने वाले न प्यार में की तुम्हारा प्यार लव जिहाद है ,

अरे तुम भी न क्या क्या सोचती हो मैं सेक्युलर पार्टी से हूँ ,
अच्छा मैं एक वादा माँगू ,

हाँ हाँ  बोलो ,
तुम मुझे कश्मीर जैसा धरा 370 जैसा कुछ देना ,

अच्छा साथ में अफ्स्पा भी दे लगा देता हूँ हाहाहा ,
तुम सच्ची में नेता हो गए हो तुम्हे मेरी फ़िक्र नही …,

अरे ऐसा न बोलो मैं तुम्हे सिंगूर बनाना चाहता हूँ और तुम कश्मीर के पीछे पड़ी हो ….
अच्छा तुम्हरी आर्थिक नीति क्या होगी प्यार में ,

क्या बात है तुम तो घुस सी गई इलेक्शन में , नीति वही पुरानी होगी लेकिन इस बार मैं जोर जोर बताऊँगा अपनी नीतियों को ,
क्या तुम भी प्यार में मेक इन इंडिया जैसा कुछ करोगे ,

सोच तो रहा हूँ करने की देखो FDI आये तो कुछ सोचु प्यार में ,
अच्छा तुम खोया हुआ प्यार लाओगे न जैसी सरकारे काला धन ला रही है ,

हाहाहा मैं भी कानून बनाऊँगा बोलूँगा अपने आप आ जाओ हाहाहा ! !
तुम तो सीरियस ही नही होते , मुझे पता लग गया कुछ नही करने वाले तुम सब हवा हवाई है ,

अरे ऐसा न बोलो मैं प्यार में जबरदस्ती बंद करूँगा जैसे बिहार सरकार ने शराब बंद कर दी ,
अच्छा सोचा तुमने , देखो कही ब्लैक न हो जैसे शराब हो रही है। 
अच्छा छोड़ो सब ये बताओ ये जो हमारी बाते है उनके लिए क्या करोगे जिनकी वजह से हम बने है ,

उनके लिए वही करेंगे जो देश के किसान के लिए करा है ,
देख लो कही हमारी बाते आत्महत्या न कर ले , तुम इनके लिए कुछ अच्छा सा करना जैसे विकास टाइप , देखते है हमारे विकास में फ़ीट बैठे पहले ये क्योंकि किसान तो नही फ़ीट बैठेते देश के विकास में। 

देखो हम न अपने प्यार में विदेश नीति भी बना लेते है ,
पहले बता रही हूँ  हमारे बीच कश्मीर जैसा कुछ नही होना चाहिए नही तो देश की तरह हम भी प्यार की जगह युद्ध में ही लगे रहेंगे ,

हाँ तुम सही बोलती हो बॉर्डर का कोई चक्कर नही रखेंगे , हम अपना रिश्ता नेपाल जैसा बिना पासपोर्ट वाला बना कर रखेगे
चलो अब इलेक्शन को लोगो पर छोड़ देते है , हम भी पता नही कहाँ इस सियासत से अपने प्यार को नाप रहे है , लेकिन तुम अच्छा इलेक्शन लड़ सकते हो,

अरे रहने दो हमें प्यार करना है हमे सियासत नही

Abhay is Mass Media student from Jamia Millia Islamia