खबर प्यार मे : मेरा प्यार 100 का नोट

पता नही लगा मैं कबसे तुमसे प्यार करने लगा शायद वो 8 तारीख की रात थी जब मैने तुम्हे प्रोपोज़ किया  था तबसे तुमसे प्यार हो गया । वो भी इतना जितना साहेब, शाह से करते है और हाथ युवराज से , तुम मेरा प्यार पार्टी वाला मत समझ लेना, मैं तुमसे सच्ची वाला दिल से प्यार करता हूँ लेकिन लगता है तुम मुझसे नाराज हो जब भी तुम्हे लेने जाता हूँ तुम मिलती नही हो….
तुम आज कल एक डब्बे में बंद हो लेकिन वो डब्बा पता नही कब खाली हो जाता है समझ नही आता । तुम तो रोज दिख जाती हो लेकिन तुम्हरी मम्मी तो बहुत कम दिखती हैं  हम जैसो के पास। वो तो बस दिखी मुझे गुलाबी रंग में जो बड़े-बड़े लोगो की जेब की गुलाब बनी हुई है , क्या हुआ है तुम्हरी मम्मी को आज कल हमसे मिलती भी नही है बोलो न उन्हें मैं उन्हें अपनी मम्मी की तरह चाहता हूँ , बस आज कल तो वो बस हमे देख कर मुँह फेर लेती है कुछ ज्यादा ही नाराज चल रही है हमसे। किसी के पास वो एक नही किसी के पास इतनी है कि पूछो मत बस , समझाओ न अपनी मम्मी को वो मुझसे भी मिले, कभी कभी लगता है उनकी भी गलती नही वो तो डब्बे में भी नही आ पा रही है , निकाले कहाँ से उन्हें , तुम ही  हो जो आराम से मिल जाती हो कभी-कभी , तुम्हरी मम्मी तो बस कमल वालो के यहाँ झोला भर-भर के मिल रही हैं…..
 
तुम्हरा भाई तो लाइन में खड़े होने पर ही मिलता है , बड़ा खड़ूस हो गया है और घमंडी भी उसका अब एक नया चेहरा सामने आ रहा है , अरे वही तुम्हारा भाई 50 का नोट , तुम्हारी मम्मी पर गया है थोड़ा रंग में और घमंड में भी , कभी हम लोगो की जेब में हुआ करता था अब तो बैंक वालो की गड्डी में है उसी को दे रहे है आज कल इसलिये थोड़ा घमंड आ गया है , जाने दो 31 दिसंबर देखो अक़्ल ठिकाने आ जायेगी , क्योंकि उसके बाद मेरा देश बदल जायेगा
तुम्हरी छोटी बहन भी आ गई सबके सामने अरे वही जो सुनहरी सी है एक दम सोने जैसी 10 के सिक्के के रूप में जो है , बेचारी इतनी ठण्ड में गुलक से बाहर आ गई , लोगो को शर्म नही आई छोटी सी लड़की पर जुल्म करते हुऐ , देखो 31 दिसम्बर के बाद थोड़ी राहत मिले इसे , उसके जुल्म देखे नही जा रहे है फ़क़ीर से इसलिये 31 के बाद सब सब बदल जायेगा , क्योंकि मेरा देश बदल रहा है …..
तुम थोड़ा परेशान हो लो अपनो के लिए तुम ही तो जो पिछली 8 से अब तक मेरा साथ दे रही हो , सच्ची अब तो तुम भी प्यार करने लगी होगी मुझसे  , देखों तुम नाराज न होना मुझसे नही तो बस मैं बचूंगा नही इस दुनिया में , तुम्हे पाने के लिए मैं राष्ट्रगान भी गा लूँगा एक बार नही 10 बार गा लूंगा , बस मिल जाया करो तुम , आई लव यू
Abhay is Mass Media student from Jamia Millia Islamia