“मेरी पहचान “–ग़रीबों को पढ़ाने की एक मुहीम

IMG-20140302-WA0002 नई दिल्ली:
दिल्ली की एक सामाजिक संस्था  इंडियन यूथ फोरम ने जामिया नगर के  ओखला विहार में झुग्गी  झोपड़ियों में रहने वाले गरीब मजदूर और  रिक्शाचालको को पढ़ाने के मुहीम की शुरुआत की है जिसका नाम है “मेरी पहचान “
इस मुहीम का आगाज़ शनिवार से शुरू किया गया, यूथ फोरम प्रत्येक  दिन रात के 10 बजे से इन्हें पढ़ाएगी। इन गरीबों के बीच कॉपी,किताब भी यूथ फोरम के सदस्यों ने  ही बांटा हैं।  गौरतलब है कि मजदूर और रिक्शावालों में भी पढाई को लेकर काफी उत्साह था, इस उम्र में और दिन भर मेहनत  मजदूरी करके थकने वाले मजदूरों ने कहा गरीबी कि हालत में हम लोग नहीं पढ़ पाए,लेकिन ये नौजवान लड़के  हमलोगों को पढ़ाने के ज़िम्मा उठा कर बहुत बड़ा काम कर रहे हैं।
इंडियन यूथ फोरम के सदस्य और इन मजदूरों के  शिक्षक मंज़र नयाज़  ने कहा ये लोग  मजबूरीवश नही पढ़ पाए अगर ये थोड़ा भी शिक्षित हो जायेंगे तो ये भी अपने  बच्चों को पढ़ाएंगे, ताकी कल को इनका भी बच्चा डाक्टर या  इंजीनियर बने,मैं चाहता हूँ ये लोग भी पढ़े  और अपने   आने वाले पीढ़ी का  भविष्य सुधारे और इन गरीबो के लिए ना तो सरकार के पास कुछ करने का समय होता है ना ही  किसी नेता के पास
इस मौके पर यूथ फोरम के सदस्य  शौकत अली ,खालिद हसन, सयान आदिल ,नुरुल होदा और  मुहम्मद मोकिम उपस्थित थे।