#OccupyUGC : छात्रों के खिलाफ दिल्ली पुलिस द्वारा बर्बर कार्रवाई

देश के कोने-कोने से आये हुए छात्र आज यूजीसी से संसद भवन तक मार्च का हिस्सा बनने के लिए यूजीसी पे एकत्रित हुए। यह मार्च अपने देश की शिक्षा को मोदी सरकार द्वारा WTO को सौंपने के खिलाफ थी । छात्रों के खिलाफ दिल्ली पुलिस द्वारा बर्बर कार्रवाई की गई। पानी की बौछारों, आंसू गैस, लाठीचार्ज…विश्व व्यापार संगठन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर वो सभी हथकंडे अपनाए गये जिस से वो मार्च को ले कर आगे ना भड़ पायें।
मधुरिमा का कहना है कि March to Parliament के दौरान अशोका रोड पर पुलिस द्वारा पानी की बौछारों और आंसू गैस का प्रयोग किया गया जिस से साँस तक लेने में भी तकलीफ़ आई, लाठी चार्ज के दौरान काफ़ी लोगों को इतनी गहरी चोट आई की उन्हें हस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। किसी के सर में से खून बहा तो किसी की उँगलियाँ तोड़ दी गयी। J.N.U उपाध्यक्ष Shehla Rashid भी गंभीर रूप से जख्मी है। Parliament Street, Police Station में छात्रों को पुलिस द्वारा अभी तक रोक हुआ है।
ना केवल छात्र बल्कि कई सामाजिक कार्यकर्ता, विश्वविद्यालयों के प्रोफ़ेसर और तो और कुछ पार्टियों के वरिष्ठ नेता भी मोदी सरकार की इस नीति के खिलाफ आवाज़ उठा चुके हैं और #OccupyUGC को अपना समर्थन दे चुके हैं।