बाबा रामदेव का जेएनयू आना रद्द हुआ – कहीं व्यस्त थे बाबा या विरोध के स्वर उन तक पहुँच गए ?

दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के छात्रों ने संस्थान द्वारा सह आयोजित किए जा रहे एक कार्यक्रम में योग गुरू रामदेव को प्रमुख वक्ता के तौर पर आमंत्रित करने के फैसले का विरोध किया था.

जेएनयू छात्र संघ उपाध्यक्ष शहला राशिद शोरा ने अपने फेसबुक अकाउंट के जरिये ये बताया की उन्होंने जेएनयू प्रशासन और अन्य सम्भंदित अधिकारीयों को पत्र लिखा था जिसमें स्पष्ट रूप से यह कहा गया था की बाबा राम देव को आने से रोका जाए अन्यथा उन्हें विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ेगा. उन्होंने अधिकारीयों के साथ बैठक करके भी अपनी बात उन तक पहुंचाई थी जिसके चलते शाम को उन्हें प्रशासन के E- Mail द्वारा ये सूचना मिली की रामदेव जी नहीं आएंगे.

जेएनयू में पड़ रहे जीतेन्द्र ढाका जो की ABVP समर्थक हैं का कहना है की शहला जूठ बोल कर लोगों को गुमराह कर रही हैं और बाबा रामदेव जी ने दो दिन पहले ही आने से मना कर दिया था, हो सकता है वो किसी काम में व्यस्त हों. उन्होंने कहा की जेएनयू ABVP अन्य छात्रों के साथ मिलकर जल्द ही किसी अन्य समारोह में बाबा रामदेव और योगी आदित्यनाथ को बुलाने का प्रयास करेंगे.

इस से पहले भी इलाहबाद यूनिवर्सिटी में अध्यक्षा ऋचा सिंह द्वारा योगी आदित्यनाथ को वहां आने से रोका जा चुका है.